बुधवार, नवंबर 27, 2013

कहानी: ज़ख्म - डॉ. रश्मि | Hindi Story 'Zakhm' By Dr Rashmi

बुधवार, नवंबर 27, 2013
ज़ख्म  - डॉ. रश्मि कैसा है यह द्वंद्व, समझ ही नहीं पा रही हूँ........... एक तरफ ‘तुम’ हो.....तो दूसरी तरफ है ‘वो’। प्रेम के ये दोनों...

मंगलवार, नवंबर 26, 2013

सोमवार, नवंबर 25, 2013

गुरिंदर आज़ाद की गज़लें | #Ghazal : Gurinder Azad

सोमवार, नवंबर 25, 2013
गुरिंदर आज़ाद कवि और दलित एक्टिविस्ट हैं। उनके लेखे डाकुमेंट्री फ़िल्म निर्माण, पत्रकारिता, सामाजिक विषय लेखन जैसे अन्य काम भी हैं। बठिंड...

रविवार, नवंबर 24, 2013

तीन गज़लें और कई रंग - प्राण शर्मा | Three Colors Three Ghazals - Pran Sharma

रविवार, नवंबर 24, 2013
कुछ  इधर से कुछ  उधर से आ गए पत्थर कई घर  को  खाली  देख कर बरसा गये पत्थर कई दो  जमातों  में  हुआ  कुछ ज़ोर से ऐसा फसाद देखते    ही   दे...

गूगलानुसार शब्दांकन