रविवार, फ़रवरी 24, 2013

कविता में कवि-मन दिखाई देना चाहिए- लीलाधर मंडलोई

रविवार, फ़रवरी 24, 2013
     24 फरवरी, 2013, नयी दिल्ली - विनोद पाराशर      सिरीफोर्ट आडिटोरियम के नजदीक वरिष्ठ चित्रकार अर्पणा कौर की ’ एकेडमी आफ फाइन आर्ट एण्...

शिशु और शव का मिटता फर्क - प्रेम भारद्वाज

रविवार, फ़रवरी 24, 2013
शिशु और शव का मिटता फर्क      दोस्तोएवस्की ने कहा था कि अगली शताब्दी में नैतिकता जैसी कोई चीज नहीं होगी। गुलजार के सिनेमाई गीतों पर आध...

गूगलानुसार शब्दांकन