विचारों के कारागार में बंद वामपंथी - अनंत विजय

प्रेमचंद की जयंती के मौके पर हिंदी साहित्य की मशहूर पत्रिका हंस की सालाना गोष्ठी राजधानी दिल्ली के साहित्यप्रेमियों के लिए एक उत्सव की तरह...
Read More

आज है उनका जन्म दिन "शकील बदायुनी" - सुनील दत्ता

हरि ॐ ...  मन तरपत हरि दर्शन को आज मोरे तुम बिन बिगरे सब काज ..      जीवन के दर्शन को अपने कागज के कैनवास पर लिपिबद्द करने वाले मशहूर ...
Read More

तीन गज़लें - तीन रूप ( बचपन , जवानी और बुढ़ापा ) - प्राण शर्मा , यू .के

बचपन  हर  इक   की   आँखों   का   वो   ध्रुवतारा   होता  है सच   है   प्यारे   बचपन   कितना   प्यारा  होता  है उसका  रूप  सलोना  जादू  ...
Read More
osr5366