कविता की रफ़्तार उबड़-खाबड़ जमीं पर तेज हो जाती है - कल्याणी कबीर

चर्चित कवयित्री कल्याणी कबीर के प्रथम काव्य संग्रह “गीली धूप”  का लोकार्पण समारोह जमशेदपुर के बहुभाषीय साहित्यिक संस्था सहयोग के सौजन्य स...
Read More

रवीन्द्र कालिया - दस्त़खत (अक्टूबर 2013)

जिस गति से वैज्ञानिक क्षेत्र में प्रगति हो रही है, नयी से नयी तकनीकि का आविष्कार हो रहा है, संचार में अभूतपूर्व क्रान्ति आयी है, उस गति से...
Read More
osr5366