गुरुवार, अक्तूबर 31, 2013

कितनी कमज़ोर थी हमारी तैयारी, और आगे और भी कमज़ोर है - अशोक गुप्ता | Ashok Gupta on Rajendra Yadav

गुरुवार, अक्तूबर 31, 2013
कितनी कमज़ोर थी हमारी तैयारी, और आगे और भी कमज़ोर है अशोक गुप्ता  दुनिया में मौत से बड़ा सच और कोई नहीं है. अगर अकाल मृत्यु की बात छोड़ दे...

गूगलानुसार शब्दांकन