बुधवार, मार्च 05, 2014

निदा फाजली: कल रात कुछ ऐसा हुआ, अब क्या कहूँ कैसा हुआ

निदा फाजली 

वो रूप था या रंग था, हर पल जो मेरे संग थामैंने कहा तू कौन है, उसने कहा तेरी नज़र


दांये से बाएं साहित्य अकादमी अध्यक्ष विश्वनाथ प्रसाद तिवारी, निदा फ़ाज़ली, भरत तिवारी
वो रूप था या रंग था, हर पल जो मेरे संग था
मैंने कहा तू कौन है, उसने कहा तेरी नज़र

गूगलानुसार शब्दांकन