Bombay Docks Explosion, 3, Sakina Manzil (3 सकीना मंज़िल)

उन लोगों ने अपने टाइटैनिक का कितना ढिंढोरा पीटा और एक हम हैं...” शनिवार 8 फरवरी की शाम, दिल्ली के प्रसिद्ध कला केन्द्र अक्षरा थिएटर में ले...
Read More

अगर आप आमंत्रित नहीं हैं तो घंटी न बजाएँ - खुशवंत सिंह Noted writer and journalist Khushwant Singh dies

सरदार खुशवंत डैड, और आगे छोटे अक्षरों में प्रकाशित होगा : गत शाम 6 बजे सरदार खुशवंत सिंह की अचानक मृत्यु की घोषणा करते हुए अफसोस हो रहा है...
Read More
osr5366