विजय चौक लाइव (उपन्यास अंश) - शिवेंद्र कुमार सिंह | Vijay Chowk Live (Novel excerpts) - Shivendra Kumar Singh

चौबे जी ने आव देखा ना ताव- रख कर दिया एक थप्पड़ सीधे दाहिने गाल पर। अब तो माहौल बिल्कुल ही बदल गया। वेब टीम का रिपोर्टर एक सेकंड के लिए त...
Read More

रवीश की रपट - चुनाव तो हो चुका है | Ravish Ki Rapat - The election is over

चुनाव तो हो चुका है रवीश की रपट लोगों के बीच घूमने से पता चलता है कि हवा का रुख़ क्या है । अब लगभग यह स्थापित होता जा रहा है कि नरेंद...
Read More
osr5366