तमंचे पर डिस्को - प्रेम भारद्वाज | Prem Bhardwaj

तमंचे पर डिस्को - प्रेम भारद्वाज एक  फिल्म है ‘बुलेट राजा’। उसके एक गीत की पंक्ति है, ‘तमंचे पर डिस्को।’ गाना लोकप्रिय और बाजारू है, लेकिन य...
Read More

फेसबुकिया लेखन, प्रकाशक और महात्वाकांक्षाओं का मेला - अनंत विजय | Anant Vijay on Delhi World Book Fair 2014

यह बात सही है कि मौसम का असर जनजीवन पर पड़ता है और लोग सिकुड़ने लगते हैं लेकिन विचारों और विमर्श का सिकुड़ना चिंता का सबब होता है ।  दिल...
Read More
osr5366