स्याह-सफ़ेद दुनिया का सच -भावना मासीवाल | Review of Nirmal Bhuradiya's Novel 'Ghulam Mandi' by Bhawna Masiwal

स्याह-सफ़ेद दुनिया का सच -भावना मासीवाल समाज में मनुष्यता आज हाशिए पर है और हाशियाकरण की यह प्रक्रिया लंबे समय से मानवाधिकारों के ह...
Read More

कहानी: एक पेड़ की मौत - अलका सरावगी | HindiKahani 'Ek Ped ki Mout' by Alka Saraogi

ये कहानी आपको बहुत पसंद आने वाली है ... हो सकता है कि आप सोचे कि 'यह कहानी क्यों प्रकाशित की गयी ' या फिर 'इतनी अच्छी कहान...
Read More

अनुशासित प्रशासन लाने की एक सार्थक पहल- अशोक गुप्ता | Discipline and administration - Ashok Gupta

अनुशासित प्रशासन लाने की एक सार्थक पहल -अशोक गुप्ता कम से कम विगत तीन दशकों से भारतीय राजनेताओं के दंभ जनित व्यवहार में अनुशासन का...
Read More
osr5366