सोमवार, जून 08, 2015

लिहाफ़ - इस्मत चुगताई की कहानी | Lihaf by Ismat Chugtai

सोमवार, जून 08, 2015
लिहाफ़ - इस्मत चुगताई जब मैं जाड़ों में लिहाफ ओढ़ती हूँ तो पास की दीवार पर उसकी परछाई हाथी की तरह झूमती हुई मालूम होती है। और ...

गूगलानुसार शब्दांकन