जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल वर्ष में पुस्तकों के लांच का भी सबसे बड़ा ठिकाना बन गया है


ज़ी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल-2016  में जारी होंगी 17 पुस्तकें


जयपुर, 21 जनवरी, 2016: ज़ी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल-2016 में 17पुस्तकों को लांच किया जाएगा। पहली लांच होने वाली पुस्तक है कन्वर्सन  इन जयपुरः द स्प्रिट ऑफ़ जेएलएफसम्पादक उर्वशी बुटालियाइसे फेस्टिवल के उद्घाटन के अवसर पर लांच करेंगे ज़ी के मुख्य कार्यकारी पुनीत गोयनका और श्रेयांशी गोयनका। इस पुस्तक में जेएलएफ में अब तक की गई चर्चा एवं विचार विमर्श की विवेचना की गई है। इस पुस्तक पर विस्तार से चर्चा 24 जनवरी को होने वाले सत्र के दौरान की जाएगी।

परेश मैतीः वर्ल्ड ऑफ़ कलर्स: यह चित्रांकित पुस्तक है एवं यह सीमित संस्करण का प्रकाशन है जिसमें परेश मैती के विशाल प्रदर्शनों की सूची है जो फाउण्डेशन संग्रह में दी गई है। द स्टेलर इंटरनेशनल आर्ट फाउण्डेशन एक गैर लाभकारी उपक्रम है जिसके पास 19वीं शताब्दी से लेकर आज तक की 600 से भी ज्यादा पेन्टिग्स और मूर्तियों का  संग्रह है। इस पुस्तक का लांच 21 जनवरी को दोपहर 1.40 बजे से 2.20 बजे तक किया जाएगा। परेशमैतीः वर्ल्ड ऑफ़ कलर्स को द स्टेलर इंटरनेशनल आर्ट फाउण्डेशन द्वारा रजनीगंधा सिल्वर पर्ल्स फ्रण्ट लॉंस में जारी किया जाएगा।

द इण्डियन एसेंट रेस्टोरेंट कुक बुक: यह भारत के पाकशास्त्र पर आधारितपुस्तक हैइसका रेस्टोरेन्ट द मेनौर नई दिल्ली में है जो कि अवार्ड विजेता शैफ मनीष मेहरोत्रा द्वारा तैयार भारतीय मैन्यू पर आधारित है। जो रोहित चावला के फोटोग्राफ्स के साथ हैरोहित भारत के महत्वपूर्ण फूड फोटोग्राफर्स में गिने जाते हैकुक बुक में भारतीय जायके की रेसिपीज को चुना गया है तथा पारंपरिक थालियों में इन्हें प्रदर्शित किया गया है। इस पुस्तक का लांच 21 जनवरी को 1.40 बजे से 2.20 बजे किया जाएगा। द इण्डियन एसेंट रेस्टोरेंट कुकबुक बाय मनीष महरोत्रा को शोभा डे द गूगल मुगल टैन्ट में लांच करेंगी।

द आर्ट ऑफ जोगी फैमिली 1980 की मुठभेड़ की दास्तान है जिसके बाद गणेश जोगी और उसकी पत्नी तेजू ने लोगों का ध्यान आकर्षित करना शुरू कर दिया। वे शीघ्र ही अपने छह बच्चों के साथ रहने लगे और यही पारिवारिक परम्परा बन गई। इसमें जहां उनका भोलापन मनभावन है वहीं यह उनके जीवन ग्रामीण एवं शहरी जीवन के बीच परंपरा और आधुनिकता के द्वंद्व  के विविध रंगों पर भी प्रकाश डालती है। 


पुस्तक का लांच 21 जनवरी को अपराहन 4.45 बजे से 5.15 बजे तक होगा
कंटम्पररी एक्सप्रेशन्स: आर्ट ऑफ़ जोगी फैमिली क्यूरेटेड बाय तुलिका केडिया का लांच राजस्थान की मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे और मालविका सिंह चारबाग टैन्ट में करेंगी।
इन यू केन बी-स्मार्टर एण्ड वाइसरः मीरा शिनॉय ने इसमें वास्तविक जीवन की कहानियों को संकलित किया है. यह उन लोगों के लिए प्रेरणादायी है जिन लोगों ने अपनी अयोग्यता को एक अवसर के रूप में परिवर्तित कर दिया है तथा अन्य कमजोर लोगों को जीने की राह दिखाई है। इस पुस्तक को 21जनवरी को 4.45 बजे से 5.15 बजे तक लांच किया जाएगा। इन यू केन बी-स्मार्टर एण्ड वाइसरः मीरा शिनॉय  को संजॉय रॉय एवं नमिता गोखले रजनीगंधा सिल्वर पल्र्स फ्रन्ट लॉन में करेंगे।
सभी किताबे वयस्कों के लिए नहीं होती थण्डरस्टॉर्म: दलित कहानियां, इसके लेखक है रतन कुमार साम्भरिया। इस किताब में कुल 15 कहानियां हैं जिनमेंमनोरंजकविडम्बना और गंभीरता तथा कई अन्य विषयों के से जुड़ी कहानियों का प्रभावी चित्रण है जिनमें जातिवाद से जुड़े सामाजिक अन्यायों को दर्शाया गया है और उन पर विद्रोह की चिंगारी दागी गई है. यह पुस्तक भी 21 जनवरी को 4.45 बजे से 5.15 बजे तक लांच की जाएगी. थंडरस्टॉर्म दलित कहानियां बाय रतन कुमार साम्भरिया को संवाद टैन्ट में लांच किया जाएगा।
द पैनल सैशन इण्डिया प्ले यह स्टेलर लाइनअप है, जिसमें खेल से जुड़ेलोगों का क्रिकेट के प्रति राष्ट्रीय जुनून को दर्शाया गया है वहीं अन्य लोकप्रिय खेलों की विशाल श्रृंखला है जिसमें फुटबाल और कुश्ती से लेकर मुक्केबाजी और पोलो भी शामिल हैं। प्रतिष्ठित खेल लेखक सुरेश मेनन ने इसका सम्पादन किया है. विस्डन इण्डिया एल्मनेक 2015 इस सत्र के दौरान लांच की जाएगी। सुरेश मेनन के साथ प्रतिष्ठित क्रिकेट खिलाड़ी अनिल कुम्बलेप्रसिद्ध फुटबाल खिलाड़ी बायचुंग भूतिया और पत्रकार एवं लेखक सिडिन वेदकुट प्रतिस्पर्धात्मक खेलों पर चर्चा करेंगे और वे भावनाएं जिनसे वे प्रेरित हुए हैं बताई जाएगी। पुस्तक लांच 22 जनवरी, 12.25 बजे से 1.25बजे तकविस्डन इण्डिया एल्मनेक का विमोचन रजनीगंधा सिल्वर पर्ल्सफ्रण्ट लॉन में किया जाएगा।
प्रख्यात फ्रेंच लेखक एवं सिनेकार जेन क्लाउड कैरिज और सुजाता बजाजः गणपति जिसमें सुजाता बजाज से किशोर सिंह इन्टव्यू लेंगे।
इस बुक को आर्ट अलाइव गैलरी नई दिल्ली ने प्रकाशित किया है जिसमें कलाकार के जीवन भर के प्रयासों को समाहित किया गया है और उनको गणपति के सार के रूप में प्रस्तुत किया गया है और गणपति  और उनकी रहस्यपूर्ण मूर्तियाँ सभी के प्रिय हैं इसलिए यह महत्वपूर्ण रूप से कई भारतीयों का विश्वास हासिल करेगी। इस बुक का लोकार्पण 22 जनवरी को 1.40 बजे से 2.20 बजे तक होगा। सुजाता बजाजः गणपति बाय जेन क्लाउड कैरिस का रजनीगंधा सिल्वर पल्र्स फ्रंट लान्स में विमोचन किया जाएगा।
हाल ही में हिमालयकेदारनाथकश्मीर और नेपाल को प्राकृतिक आपदाओं से रूबरू होना पड़। यह आपदा प्राकृतिक थीलेकिन इसमें कई लोगों की जानें गई। लेकिन इसमें चेतावनियों के बावजूद कोई कदम नहीं उठाए गए.इन सभी सवालों का उत्तर हिमालय पर कब्रिस्तान, जो कि लक्ष्मीकांत पंत की कृति है में दी गई है। यह पुस्तक 22 जनवरी को फेस्टिवल के दौरान मुगल टेंट में दोपहर 1.40 बजे से 2.20 बजे के बीच जारी की जाएगी तथा इस पुस्तक पर लक्ष्मी पंत और नमिता गोखले और स्टिफन आल्टर चर्चा करेंगे।
एक अच्छे अभिभावक होने के लिए कौशल की जरूरत होती है और एक बार यदि यह कौशल आ जाए तो समय को तेजी के साथ बदला जा सकता है। इज योर चाइल्ड रेडी टू फेस द वर्ल्डमें डॉ. अनुपम सिबल ने अपने अनुभवों के आधार पर एक पिता और बच्चों के चिकित्सक होने के नाते इसे काफी प्रभावशाली तरीके से पेश किया है जिसमें बताया गया है कि आधुनिक परिवेश में बच्चों की देखभाल कैसे की जा सकती है। इस बुक का लांच 22जनवरीशाम 4.45 बजे से 5.15 बजे के बीच किया जाए इज योर चाइल्ड रेडी टू फेस द वर्ल्डबाय अनुपम सिबल को राजस्थान की पूर्व मंत्री बीनाकाक रजनीगंधा सिल्वर पर्ल्स फ्रन्ट लॉंस में लांच करेंगी।
पूर्व केबिनेट मंत्री सलमान खुर्शीद विकास के पर्दे के पीछे के कटू सत्य के साक्षी रहे हैं जिसका गहरा असर भारत की नियति पर पड़ा है। इन अदर साइड ऑफ़ माउन्टेन में उन्होंने राजनीतिमीडियाअन्तर्राष्ट्रीय सम्बन्ध और निर्भया दुखांतिका और अन्न हजारे आन्दोलन को देखा है. द अदर साइड ऑफ़ माउन्टेन बाय सलमान खुर्शीद का विमोचन रजनीगंधा सिल्वर पर्ल्सफ्रन्ट लॉंस में किया जाएगा।
लेखिका सुमन भटनागर ने राजस्थान ऑन ए प्लैटरः इजीटेस्टीहैल्दी पुस्तक प्रस्तुत की है जिसमें यंग होम मेकर्स के लिए पारम्परिकपकाने में आसान राजस्थानी भोजन और भोजन के प्रति संवेदनशील रहने वाले तथा पारंपरिक और तेजी से बदलते आधुनिक स्नैकिंग जनरेशन का मिला जुला रूप प्रस्तुत किया है। इस पुस्तक को 23 जनवरी को दोपहर 1.40 बजे से 2.20 बजे के बीच लांच किया जाएगा। राजस्थान ऑन ए प्लैटरः इजीटेस्टीहैल्दी बाय सुमन भटनागर एण्ड पुष्पा गुप्ता को रामप्रताप डिग्गी गोल्डन मुगल टेन्ट में लांच करेंगे।
गांधी-न इलस्ट्रेटेड बायोग्राफी बाय प्रमोद कुमार जी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में बिलवेड बापू के सत्र के दौरान लांच की जाएगी। इस सम्मानित पैनल जिसमें महात्मा गांधी की पौत्री तारा गांधी भट्टाचार्जी मानव सुरक्षा एवं आदमी की प्रतिभा में से कौन सा पहलू महात्मा बनाता है विषय पर चर्चा करेंगी। बिलवेड बापू का विमोचन 23 जनवरी को दोपहर 2.30 बजे से 3.30बजे के बीच चारबाग टेन्ट में किया जाएगा।
बॉलीवुड के फिल्म सेट से पर्दे से वैवाहिक जीवन. तमिलनाडु के एक गांव कीब्यूटी पार्लर की कठोरता से घर त्याग चुकी लड़कियों के साथ काम करके वाकिंग विद टुवर्ड आवरसेल्वस में उनके अनुभवों को संजोने वाली पुस्तक है वाकिंग टुवर्ड आवरसेल्व्स: इण्डियन वुमन टेल देयर स्टोरीज, जिसका संपादन कैटरियोना मिचे ने किया है इस बुक को 23 जनवरी को शाम 4.45बजे से 5.15 बजे के मध्य रजनीगंधा सिल्वर पल्र्स फ्रन्ट लौंस में किया जाएगा।
शब्दवेद एक असाधारण जीवन की कथा है और भारत के थेसौरस मैन अरविंद कुमार की कहानी है। जिसमें उन्होंने 70 वर्ष की शब्द यात्रा का विवरण पेश किया है। 70 के दशक के अंत में वे गहराई के साथ इसमें जुट गए और हिन्दी शब्दकोश का पहला खजाना बना डाला। वर्ष 2007 में पेंगुइन इण्डिया और यात्रा बुक ने इसे तीन संस्करणों में हिन्दी-इंगलिशइंगलिश-हिन्दी शब्दको के रूप में पेश किया. 3000 पृष्ठों के इस संग्रह में एक मिलियन इंगलिश और हिन्दी अनुभवों को समाहित किया गया है। इस बुक को 23 जनवरी की शाम 4.45 बजे से 5.00 बजे के बीच शब्दवेद बाय जावेद अख्तर गुगल मुगल टेंट में किया जाएगा।
प्रतिष्ठित फिल्मकार और दिग्गज सत्यजीत राय की विरासत को आगे बढाने वाले रितुपर्णो घोष समकालीन बंगाल की बेहतरीन फिल्मकारों में एक रहे हैं। उनकी फिल्में जमीन जुड़ी हैं विशेषकर मध्यम वर्ग के मूल्यों को उनमें समाहित किया गया है। यह प्रथम विद्वतापूर्ण अध्ययन है जिसे लेखिका संगीता दत्ता ने अपने हाथ में लिया है। उनके कंट्रीब्यूशन टू द सिनेमेटिक लैण्डस्केप ऑफ़ इण्डिया पर चर्चा होगी। पुस्तक का लांच 24 जनवरी को दोपहर 1.40 बजे से 2.20 बजे के बीच रितुपर्णो घोष: सिनेमाजेंडर एण्ड आर्ट बाय संगीता दत्ता का विमोचन रजनीगंधा सिल्वर पर्ल्स फ्रन्ट लॉंस में किया जाएगा।
ग्रिफ्थ रिव्यू 49: न्यू एशिया नाउ में एशिया के मध्य में असाधारण युवा लेखकों का विवरण है. इन सभी लेखकों का जन्म 1970 के बाद हुआ हैजिन्होंने उन लोगों, जिन्हें वे जूनून के लिए जानते है, के बारे में लिखा है। इस बुक का लांच 24 जनवरी को शाम 4.45 बजे से 5.15 बजे तक होगा ग्रिफ्थ रिव्यू 49: न्यू एशिया नाउ में एशिया विद जुलीएने शुल्ज एण्ड जेने केमने द्वारा चार बाग टेन्ट में विमोचित की जाएगी। 
फेस्टिवल की शुरूआत में लांच की गई नई पुस्तक कन्वर्सन एट जयपुर: द स्प्रिट ऑफ़ जेएलएफ पर सत्र चर्चा में अमित त्रिपाठीबिबेक देवरायनमिता गोखलेविलियम डेलरिम्पल तथा संजॉय राय शाम 4.45 बजे से 5.15 बजे तक गूगल मुगल टेन्ट में बातचीत करेंगे। 
दर्शक फेस्टिवल साइट पर जेएलएफ बुक स्टोर्स से इन पुस्तकों को खरीद सकते हैं।
Share on Google +
    Facebook Commment
    Blogger Comment
osr5366