वार्षिक साहित्यिक सम्मानों के लिए प्रविष्टियाँ आमंत्रित



वार्षिक साहित्यिक सम्मानों के लिए प्रविष्टियाँ आमंत्रित

रायपुर । अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हिंदी और हिंदी-संस्कृति को प्रतिष्ठित करने के लिए साहित्यिक वेब पत्रिका ‘सृजनगाथा डॉट कॉम’ द्वारा पिछले 12 वर्षों से प्रतिवर्ष दिए जाने वाले सम्मानों व पुरस्कारों के लिए पाठकों, रचनाकारों, प्रशंसकों, समीक्षकों, संस्थाओं और प्रकाशकों से अनुशंसात्मक प्रविष्टियाँ 30 नवंबर 2016 तक आमंत्रित हैं। इन सम्मानों का निर्णय वरिष्ठ साहित्यकारों के निर्णायक मंडल द्वारा किया जाएगा । ये सम्मान 13 वें अंतर्राष्ट्रीय हिंदी सम्मेलन, बाली/इंडोनेशिया (2 फरवरी से 9 फरवरी, 2017) में प्रदान किए जाएँगे । अपरिहार्य कारणों से सम्मेलन में सहभागिता नहीं कर पाने वाले चयनित रचनाकार को रायपुर में आयोजित समारोह में यह सम्मान प्रदान किया जा सकेगा ।

सभी प्रविष्टियाँ जयप्रकाश मानस, संयोजक, अंतर्राष्ट्रीय हिंदी सम्मेलन, एफ-3, छगमाशिम, आवासीय परिसर, पेंशनवाड़ा, रायपुर, छत्तीसगढ़-492001, मो.-9424182664 के पते पर भेजी जा सकती हैं।




सृजनगाथा डॉट कॉम सम्मान-2016 : 

सम्मान स्वरूप वरिष्ठ प्रतिभागी रचनाकार को साहित्यिक वेब पत्रिका सृजनगाथा डॉट कॉम द्वारा 21,000 रुपये नकद, शॉल, श्रीफल, प्रशस्तिपत्र प्रदान किया जाएगा। प्रतिभागी रचनाकार की उम्र 45 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। इस सम्मान के लिए रचनाकार को अपनी प्रतिनिधि विधा या प्रकाशित किताब (केवल कथा या कविता) की 2-2 प्रतियाँ जो विगत 3 वर्षो के भीतर प्रकाशित हुई हो, प्रविष्टि के रूप में बायोडेटा और फोटो के साथ रजिस्ट्री डाक से भेजना अनिवार्य होगा।

विन्ध्य सृजन सम्मान-2016 : 

देश के प्रख्यात भाषाविद् और हिन्दी-संस्कृत के प्रकाण्ड विद्वान डॉ. मूल शंकर शर्मा की स्मृति में भाषा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले भाषाविद्/रचनाकार को ‘विन्ध्य सृजन सम्मान’ से विभूषित किया जाएगा। सम्मान में 11,000 रुपये, स्वर्ण सम्मान पत्र व अंगवस्त्रम प्रदान किया जाएगा। इस सम्मान के लिए सम्मेलन के प्रतिभागी रचनाकार को भाषा, भाषाविज्ञान, ध्वनिविज्ञान या भाषा के क्षेत्र में नवाचार को प्रमाणित करने वाली साहित्यिक कृतियों आदि से संबंधित कृतियों की 2-2 प्रतियाँ जो विगत 3 वर्षो के भीतर प्रकाशित हुई हो, बायोडेटा और फोटो के साथ श्री विजय शंकर चतुर्वेदी, संयोजक ‘विन्ध्य सृजन सम्मान’, सोनभद्र, उत्तरप्रदेश, मो. नं. 09415233578 ईमेल के पते पर रजिस्ट्री डाक से भेजना अनिवार्य होगा।

सिन्धु रथ स्मृति सम्मान 2016 : 

ओड़िया, हिन्दी और छत्तीसगढ़ी की कवयित्री-कथाकार सिन्धु रथ स्मृति सम्मान केवल महिला रचनाकार (किसी भी विधा में मौलिक और उल्लेखनीय योगदान) के नाम होगा। सम्मान स्वरूप महिला रचनाकार को 11 ,000 की नगद राशि, मानपत्र, प्रतीकचिह्न् से अलंकृत किया जाएगा। इस सम्मान के लिए प्रतिभागी रचनाकार को कृतियों की 2-2 प्रतियाँ जो विगत 3 वर्षो के भीतर प्रकाशित हुई हो, बायोडेटा और फोटो के साथ रजिस्ट्री डाक से भेजना अनिवार्य होगा ।

प्रो. सहदेव सिंह स्मृति सम्मान 2016 : 

हिंदी के वरिष्ठ विचारक, लेखक, संपादक और उत्तरप्रदेश में प्रथम विधानसभा के समाजवादी विधायक प्रो. सहदेव सिंह स्मृत सम्मान स्वरूप प्रतिभागी रचनाकार को 11 ,000 की नगद राशि, मानपत्र, प्रतीकचिह्न् से अलंकृत किया जाएगा। इस सम्मान के लिए प्रतिभागी रचनाकार को समाजशास्त्रीय/समाजवादी विचारधारा की किसी भी विधा कृतियों की 2-2 प्रतियाँ, जो विगत 3 वर्षो के भीतर प्रकाशित हुई हो, बायोडेटा और फोटो के साथ रजिस्ट्री डाक से भेजना अनिवार्य होगा ।

सलेकचंद जैन स्मृति सम्मान 2016 : 

दिल्ली के समाजसेवा, चिंतक स्व. सलेकचंद जैन स्मृति सम्मान स्वरूप प्रतिभागी रचनाकार को 11,000 की नगद राशि, मानपत्र, प्रतीक चिह्न् से अलंकृत किया जाएगा। इस सम्मान के लिए प्रतिभागी रचनाकार को साहित्य की किसी भी विधा की उत्कृष्ट कृतियों की 2-2 प्रतियाँ, जो विगत 3 वर्षो के भीतर प्रकाशित हुई हो, बायोडेटा और फोटो के साथ रजिस्ट्री डाक से भेजना अनिवार्य होगा ।

सत्या कुंद्रा स्मृति पुरस्कार-2015 : 

हिंदी के मूर्धन्य व्यंग्यकार डॉ. प्रेम जनमेजय जी की माताजी की स्मृति में प्रारंभ इस पुरस्कार के तहत सृजन गाथा डॉट कॉम द्वारा आयोजित अंतर्राष्ट्रीय सम्मलेन में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को ही 5,100 रुपये की नकद राशि, स्मृतिचिह्न् अंग वस्त्रम् एवं शाल प्रदान किया जाएगा। इस सम्मान के लिए सम्मेलन के प्रतिभागी रचनाकार को गद्यात्मक कृति अर्थात् कथा, उपन्यास, निबंध, डायरी, आलोचना आदि कृतियों आदि से संबंधित कृतियों की 2-2 प्रतियाँ जो विगत 3 वर्षो के भीतर प्रकाशित हुई हो, बायोडेटा और फोटो के साथ रजिस्ट्री डाक से भेजना अनिवार्य होगा ।

बाबू मावली प्रसाद श्रीवास्तव स्मृति सम्मान 2016 : 

द्विवेदी युग के ख्यात निबंधकार, विचारक, लेखक बाबू मावली प्रसाद श्रीवास्तव स्मृति सम्मान स्वरूप प्रतिभागी रचनाकार को 5 ,000 की नगद राशि, मानपत्र, प्रतीक चिह्न् से अलंकृत किया जाएगा। इस सम्मान के लिए प्रतिभागी रचनाकार को निबंध/ललित निबंध की कृतियों की 2-2 प्रतियाँ, जो विगत 3 वर्षो के भीतर प्रकाशित हुई हो, बायोडेटा और फोटो के साथ रजिस्ट्री डाक से भेजना अनिवार्य होगा ।

मिनीमाता स्मृति सम्मान 2016 : 

ख्यात शिक्षाविद्, समाजसुधारक, प्रथम लोकसभा की सदस्या मिनीमाता स्मृति सम्मान स्वरूप प्रतिभागी रचनाकार को 5100 की नगद राशि, मानपत्र, प्रतीक चिह्न् से अलंकृत किया जाएगा। इस सम्मान के लिए प्रतिभागी रचनाकार को सामाजिक उत्थान, दलित चिंतन, सर्वजन हिताय को प्रोत्साहित करने वाली किसी भी विधा की उत्कृष्ट कृतियों की 2-2 प्रतियाँ, जो विगत 3 वर्षो के भीतर प्रकाशित हुई हो, बायोडेटा और फोटो के साथ रजिस्ट्री डाक से भेजना अनिवार्य होगा ।

बोधनलाल यादव स्मृति सम्मान 2016 : 

छत्तीसगढ़ के लोक मर्मज्ञ, संस्कृतिकर्मी स्व. बोधनलाल यादव स्मृति सम्मान स्वरूप प्रतिभागी रचनाकार को 5100 की नगद राशि, मानपत्र, प्रतीक चिह्न् से अलंकृत किया जाएगा। इस सम्मान के लिए प्रतिभागी रचनाकार को लोक साहित्य, लोककर्म, लोकरंग, लोकधर्म, आध्यात्मिकता को प्रोत्साहित करने वाली उत्कृष्ट कृतियों की 2-2 प्रतियाँ, जो विगत 3 वर्षो के भीतर प्रकाशित हुई हो, बायोडेटा और फोटो के साथ रजिस्ट्री डाक से भेजना अनिवार्य होगा ।

नये पाठक सम्मान 2016 : 

हिंदी की महत्वपूर्ण त्रैमासिकी नये पाठक सम्मान स्वरूप प्रतिभागी रचनाकार को 5100 की नगद राशि, मानपत्र, प्रतीक चिह्न् से अलंकृत किया जाएगा। इस सम्मान के लिए प्रतिभागी रचनाकार को छांदस विधा यथा – गीत, नवगीत, ग़ज़ल आदि की कृतियों की 2-2 प्रतियाँ, जो विगत 3 वर्षो के भीतर प्रकाशित हुई हो, बायोडेटा और फोटो के साथ रजिस्ट्री डाक से भेजना अनिवार्य होगा ।

--------------------------





पं. गिरिजा कुमार पांडेय स्मृति सम्मान – 2016

ख्यात छायावादी कवि पद्मश्री डॉ. मुकुटधर पांडेय के प्रपौत्र, सुपरिचित लेखक, संस्कृतिकर्मी स्व. श्री गिरिजा कुमार पांडेय (रायगढ़, छत्तीसगढ़) की स्मृति में रचनात्मक लेखन को प्रोत्साहित करने हेतु उनके परिवार की ओर से प्रारंभ ‘गिरिजा कुमार पांडेय स्मृति सम्मान-2016 हेतु भारतीय/प्रवासी भारतीय रचनाकारों से प्रविष्टियाँ आमंत्रित हैं । गठित 5 सदस्यीय चयन समिति द्वारा अंतिम रूप से चयनित रचनाकार को सम्मान स्वरूप 51 हजार की राशि, सम्मान पत्र, प्रतीक चिन्ह आदि से अलंकृत किया जायेगा ।

नियमावली
01. गिरिजा कुमार पांडेय स्मृति सम्मान प्रतिवर्ष 2 दो कृतियों पर दिया जायेगा । सम्मान स्वरूप प्रथम वर्ग में 31 हजार की राशि व द्वितीय वर्ग में 21 हज़ार की राशि प्रदान की जायेगी । यह सम्मान उन दो उत्कृष्ट हिंदी कविता संग्रहों या उर्दू कविता संग्रहों (सांगीतिक ग़ज़ल एलबम भी) पर बारी-बारी से दिया जायेगा जो भारतीय जीवन मूल्यों के साथ जीवन की प्रगतिशीलता को नयी संभावनाओं के साथ स्थापित करती हों ।

02. प्रतिवर्ष प्रथम वर्ग में चयनित रचनाकार को रायगढ़/रायपुर में समारोह पूर्वक सम्मानित किया जायेगा तथा दूसरे वर्ग के चयनित रचनाकार को अंतरराष्ट्रीय हिंदी सम्मेलन के आयोजन (विदेश) में समारोह पूर्वक सम्मानित किया जायेगा।

03. वर्ष 2016 के लिए यह सम्मान उर्दू कविता संग्रह/ग़ज़ल संग्रह/सांगीतिक ग़ज़ल एलबम पर अभिकेद्रित है । हिंदी और ऊर्दू के मध्य परस्पर संवाद की दृष्टि से देवनागरी लिपि में प्रकाशित ऊर्दू की कृतियों पर विचार किया जायेगा ।

04. रचनाकार की आयु 1 नवबंर, 2016 को 35 वर्ष से अधिक होनी चाहिए ।

05. प्रविष्टि में रचनाकार का बायोडेटा, फोटोग्राफ, प्रकाशित कृति (पिछले 3 वर्षों में प्रकाशित) की दो प्रतियाँ कोरियर या रजिस्टर्ड डाक से भेजना आवश्यक होगा ।

06. प्रविष्टियाँ कोई भी अनुशंसक, समीक्षक, प्रकाशक, संपादक, संस्था, पाठकगण या स्वयं रचनाकार भी प्रविष्टियाँ भेज सकते हैं ।

07. प्रविष्टि प्राप्त होने की अंतिम तिथि – 30 नवंबर, 2016

००००००००००००००००
Share on Google +
    Faceboook Comment
    Blogger Comment

1 comments :

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल सोमवार (15-08-2016) को "तिरंगे को सलामी" (चर्चा अंक-2435) पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    --
    आप सबको स्वतन्त्रता दिवस की
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete

osr5366