शनिवार, जुलाई 15, 2017

रिटर्न ऑफ़ इंदिरा : संजय गाँधी की बिटिया ? — प्रितपाल कौर #PriyaPalSingh


Priya Pal Singh Indira Gandhi
Left photo of Priya Pal Singh on facebook and right a photo of Indira Gandhi from internet.

Return of India Gandhi 

प्रितपाल कौर ऑन  प्रिया सिंह पॉल

प्रिया सिंह पॉल आजकल चर्चा में हैं। इसकी वजह प्रिया का मधुर भंडारकर की आने वाली फिल्म 'इंदु सरकार' के खिलाफ आवाज उठाना तो है ही, इसके अलावा प्रिया सिंह पॉल का यह भी दावा है कि वे पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के छोटे बेटे संजय गांधी की बेटी हैं। 



प्रिया ने यह खुलासा कुछ दिन पूर्व अपनी फेसबुक टाइमलाइन पर भी किया और सोमवार को आयोजित संवाददाता सम्मेलन में भी। जाहिर है देश के राजनीतिक जगत में इस खुलासे की गूंज महसूस की जा सकती है। लेकिन अभी तक आधिकारिक तौर पर प्रिया सिंह के इस दावे पर कोई भी प्रतिक्रिया सार्वजनिक तौर पर सामने नहीं आई है। पक्ष और विपक्ष दोनों ही चुप्पी साधे हैं।

अगर यह चुप्पी सच को नकार ना पाने की मजबूरी के तहत है तो यह सच्चाई, मौजूदा राजनीतिक परिदृश्य पर, बेहद दिलचस्प मोड ले सकती है। गांधी परिवार का एक और सदस्य जनता के सामने उस वक्त आ खड़ा हो जब कि एक तरह से कांग्रेस की राजनीतिक ताकत अपने निम्नतम स्तर पर है। यह नया मोड एक नई ऊर्जा भी भर सकता है कांग्रेस की डूबती नजर आ रही नैया में और इसके विपरीत यह भी हो सकता है कि यह रहस्य सत्य पाया जाने पर इसी डूबती नैया में पत्थर का काम कर डाले।

pritpal kaur
Pritpal Kaur is Sr Journalist and she can be contact at pritpalkaur@gmail.com (Photo (c) Bharat Tiwari)


और इस चुप्पी का दूसरा बडा कारण यह भी हो सकता है कि प्रिया सिंह का दावा बेसिरपैर की कहानी हो और इस पर प्रतिक्रिया दे कर कोई भी पक्ष इसे तूल ना देना चाहता हो, यानी इस दावे को नजरअंदाज कर के नकार दिया जाए। वैसे इस बात की सम्भावना कम लगती हैं क्योंकि आज के आधुनिक युग में, डीएनए मैचिंग के द्वारा, किसी भी इंसान का किसी भी दूसरे इंसान से रिश्ता मालूम करना बेहद आसान काम है। और खुद प्रिया सिंह ने अपना डीएनए टेस्ट करवाने की पेशकश जगजाहिर की है! संजय गांधी की पुत्री होने के दावे के साथ।

हालांकि खुद प्रिया सिंह को अपनी मां के बारे में जानकारी नहीं है। उनके अनुसार उनकी मां और संजय गांधी के प्रेम संबंध रहे और प्रिया के जन्म के बाद, प्रिया जिसका नाम उस वक्त प्रियदर्शनी रखा गया, की मां को दिल्ली से दूर भेज दिया गया। प्रिया सिंह को पॉल दम्पति को गोद दे कर दिल्ली से दूर परवरिश की गई। 2010 में वह अपने माता पिता की तलाश में दिल्ली आई । तब श्रीमती गुजराल ने संजय गांधी को उनका पिता होना बताया। मां के बारे में प्रिया के अनुसार वह अभी तक अनभिज्ञ हैं।

प्रिया सिंह के जीवन की कहानी किसी ब्लॉक-बस्टर फिल्म की तरह रोमांचक तो है ही इसमें एक बेहद दिलचस्प पन्ना और भी खुल सकता है: अगर वो वाकई संजय गांधी की पुत्री ही पाई जाती हैं तो वे किस राजनीतिक पार्टी में अपना भविष्य चाहेंगी! कारण कि संजय गांधी की पत्नी मेनका गांधी मौजूदा बीजेपी सरकार में मंत्री हैं, पुत्र वरुण गांधी बीजेपी सांसद और उनके बड़े भाई प्रधानमंत्री स्व० राजीव का परिवार — कांग्रेस!

यानी यहां आकर कहानी बेहद दिलचस्प हो जाती है। प्रभावी व्यक्तित्व की धनी और प्रतिभावान प्रिया सिंह पॉल के लिए भविष्य महत्वपूर्ण मगर चुनौती-भरे व्यक्तिगत चुनावों से भरा होने वाला है, बशर्ते कि उनके द्वारा किए गए दावे सच हों।

(ये लेखक के अपने विचार हैं।)
००००००००००००००००

1 टिप्पणी:

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल सोमवार (17-07-2017) को "खुली किताब" (चर्चा अंक-2669) पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    उत्तर देंहटाएं

गूगलानुसार शब्दांकन