February 2014 - #Shabdankan

कहानी: विसर्जन से पहले - सुरेशचन्द्र शुक्ल 'शरद आलोक' | Hindi Kahani by Suresh Chandra Shukla 'Sharad Alok'

शुक्रवार, फ़रवरी 28, 2014 1
विसर्जन से पहले सुरेशचन्द्र शुक्ल 'शरद आलोक'  प्रवासी दुकानों पर अभी भी अंतिम संस्कार का सामान आना शुरू नहीं हुआ है. शायद ...
Read More

चेस्टिबिटी बेल्ट - गीताश्री Chastity Belt - Geetashree

बुधवार, फ़रवरी 26, 2014 2
ऐसा तो नहीं कि मर्दवादी मानसिकता से लड़ते लड़ते हम खुद उसके शिकार हो गए हैं पहले लड़कियों की ड्रेस को लेकर, फिर उसकी देह को लेकर और अब ...
Read More

रंडागिरी - कहानी: विभा रानी : Hindi Kahani Randagiri by Vibha Rani

सोमवार, फ़रवरी 24, 2014 7
रंडागिरी  -विभा रानी  ‘अपुन को तो ये अक्‍खा दुनिया ही रंडा नजर आती है। अपुन रंडी, वो रंडा! अपुन की रंडीगिरी तो उनका रंडागिरी!’ डिम...
Read More

राकेश कुमार सिंह की कविता "पत्थर भी पहचान लिया करती थी" Poetry: Rakesh Kumar Singh

शुक्रवार, फ़रवरी 21, 2014 1
राकेश कुमार सिंह की कविता "पत्थर भी पहचान लिया करती थी" ऐ समन्दर, सुनो, एक बात सुनो सोच रहा हूं बहुत लिपटे हैं तुमसे मैं...
Read More

साहित्य मंच पर तिनका तिनका तिहाड़ Tinka Tinka Tihar on Literary Platform (Vartika Nanda)

गुरुवार, फ़रवरी 20, 2014 0
साहित्य मंच पर तिनका तिनका तिहाड़ फरवरी 20, 2014, तिनका तिनका तिहाड़ की गूंज आज प्रगति मैदान में खूब सुनाई दी।  अवसर था - ऩई दिल्ली विश्...
Read More

विमलेश त्रिपाठी की कविताएं | Poetry : Vimlesh Tripathi

बुधवार, फ़रवरी 19, 2014 1
कोलकाता में रहने वाले विमलेश त्रिपाठी , परमाणु ऊर्जा विभाग के एक यूनिट में सहायक निदेशक (राजभाषा) के पद पर कार्यरत हैं। इनका जन्म बक्सर, ब...
Read More

तीन लघु कथाएँ और तीन सन्देश - प्राण शर्मा Three Short Stories of Pran Shama

बुधवार, फ़रवरी 19, 2014 3
१३ जून १९३७ को वजीराबाद में जन्में, श्री प्राण शर्मा ब्रिटेन मे बसे भारतीय मूल के हिंदी लेखक है। दिल्ली विश्वविद्यालय से एम ए बी एड प्रा...
Read More

लालित्य ललित की चुनिंदा कविताएँ : Selected Poems of Lalitya Lalit

मंगलवार, फ़रवरी 18, 2014 2
गांव का खत: शहर के नाम  उस दिन डाकिया बारिश में ले आया था तुम्हारी प्यारी चिट्ठी उसमें गांव की सुगन्ध मेरे और तुम्हारे हाथों की ग...
Read More

विजय चौक लाइव (उपन्यास अंश) - शिवेंद्र कुमार सिंह | Vijay Chowk Live (Novel excerpts) - Shivendra Kumar Singh

रविवार, फ़रवरी 16, 2014 0
चौबे जी ने आव देखा ना ताव- रख कर दिया एक थप्पड़ सीधे दाहिने गाल पर। अब तो माहौल बिल्कुल ही बदल गया। वेब टीम का रिपोर्टर एक सेकंड के लिए त...
Read More

रवीश की रपट - चुनाव तो हो चुका है | Ravish Ki Rapat - The election is over

रविवार, फ़रवरी 16, 2014
चुनाव तो हो चुका है रवीश की रपट लोगों के बीच घूमने से पता चलता है कि हवा का रुख़ क्या है । अब लगभग यह स्थापित होता जा रहा है कि नरेंद...
Read More
Responsive Ads Here

Pages