head advt

Book Review: वंदना राग का उपन्यास - 'बिसात पर जुगनू'


बिसात पर जुगनू

वंदना राग का उपन्यास


Bisat Par Jugnu by Vandana Rag
वंदना राग का उपन्यास 'बिसात पर जुगनू'. वरिष्ठ आलोचक श्री रवीन्द्र त्रिपाठी, #शब्दांकन_फेसबुक_लाइव 8 जून, शाम 6 बजे, कार्यक्रम 'एक पुस्तक पर पाँच मिनट' - प्रस्तुति भरत एस तिवारी
Posted by शब्दांकन Shabdankan on Monday, 8 June 2020

 ००००००००००००००००




टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां