सौवीं गली का प्रवेश : दिलीप तेतरवे - कहानी (व्यंग्य)

May 27, 2013
साहब, मैं असत्यानंद किस्सागो हूं. अभी जो स्टोरी मैं आपको सुनाने जा रहा हूं, वह सौ प्रतिशत सच है. आप मुझ में विश्वास रखें और इस स्टोरी से...Read More

लिखने से मुझे वह मिलता है जो आपको कभी नहीं मिला – कृष्ण बिहारी

May 19, 2013
मित्र ! आपके इस लेख पर आने और इसे पढ़ना शुरू करने के कुछ कारण जो मुझे लगते हैं वो... कि आप को - १) हिंदी साहित्य से  लगाव है , २) कृष्ण बि...Read More
Powered by Blogger.