advt

कनाडा में हुआ 'इ-काव्य संकलन' - "रंग और नूर" का विमोचन | Rang Aur Noor E-Book (Hindi & Urdu Poetry)

अक्तू॰ 10, 2014

कनाडा एक सागर की तरह अपने में दुनिया भर की प्रतभाओं को समेट कर पल पल उनका उत्सव मनाता है - मारिआन कुटरना (Marian Kutarna)


"मिसिसागा लाइब्रेरी'' टोरंटो ओंटारियो कनाडा ने २८ सितम्बर २०१४ को कैनाडा में मनाये जा रहे भव्य "कल्चर डेज" के दौरान कैनाडा की हिंदी और उर्दू की प्रतिभाओं के इ-काव्य संकलन "रंग और नूर" का विमोचन समारोह आयोजित किया। इस काव्य संकलन में कैनाडा में निवास करने वाले हिंदी और उर्दू के करीब २२ कवियों की रचनाएँ सम्मिलित हैं। उर्दू की रचनाओं को देवनागरी लिपि में और हिंदी की रचनाओं का उर्दू लिपि में लिप्यंतरण किया गया है और यह पुस्तक इंटरनेट के माध्यम अब विश्वभर में उपलब्ध है. पुस्तक नि:शुलक होने के कारण इसे कोई भी साहित्य प्रेमी डाउनलोड कर सकता है और पढ़ सकता है। 

यह संकलन scribd.com और issuu.com पर स्टारबज़ मीडिया द्वारा प्रकाशित हुआ और यहाँ http://bit.ly/rangOnoor या यहाँ http://bit.ly/rangoOnoor2  पर पढ़ा जा सकता है।  


कार्यक्रम की शुरुआत मिसिसगा लाइब्रेरी की मारिआन कुटरना के उद्घाटन भाषण से हुई और उन्होंने बताया की किस तरह कनाडा एक सागर की तरह अपने में दुनिया भर की प्रतभाओं को समेट कर पल पल उनका उत्सव मनाता है। उन्होंने इस ई-पुस्तक की संपादक मीना चोपड़ा जो एक आर्टिस्ट और लेखिका हैं को और सह संपादक नसीम सयेद और अनिल पुरोहित को उनकी इस परिकल्पना और उसे पूर्ण करने के उत्साह के लिए बधाई दी और उनके अटूट प्रयास की सराहना की। 


Tia Virdi & Marian Kutarna -
Meena Chopra's book launch
आयोजित कार्यक्रम में टोरंटो शहर के बहुत से उर्दू और हिंदी के लेखक और जानी मानी हस्तियां शामिल थीं। पुस्तक का विमोचन जाने माने कला और साहित्य प्रेमी अतुल तोलिया और मारिआन कुटरना के हाथों द्वारा हुआ। उर्दू के लेखक, प्रकाशक ताहिर असलम गोरा, हिंदी के मशहूर ब्लॉगर और लेखक समीर लाल, संस्कृत विद्वान संदीप त्यागी, RANA (राजस्थान असोसिएशन ऑफ़ नार्थ अमेरिका) के सचिव योगेश शर्मा भी वहां मौजूद थे। 

मीना चोपड़ा ने बताया की जल्द ही 'रंग और नूर' के दूसरे संकलन पर भी काम शुरू किया जायेगा और कोशिश रहेगी की उसमे और भी कई कवि शामिल हो सकें. इस तरह यह प्रयास जारी रहेगा. साथ ही उन्होंने कहा "हम कनाडा निवासी बहुत भाग्यशाली हैं की हम कनाडा में रहने के कारण हम कला सहित्य एवंम संस्कृति की कई विविधताओं के संपर्क में आते हैं जिससे हमारी कल्पना का आसमान और भी विस्तृत होता है क्यों की यहाँ कई देशों से आकर लोग बसते हैं।"  मीना चोपड़ा के  पूर्व प्रकाशित काव्य संकलन "सुबह का सूरज अब मेरा नहीं है" का भी विमोचन हुआ और वह भी अब इंटरनेट पर उपलब्ध है।  

एक ई-प्रकाशन और ब्लॉगिंग की वर्कशॉप का भी आयोजन था जिसका सञ्चालन समीर लाल, मीना चोपड़ा और भूपिंदर विरदी द्वारा हुआ।  कार्यक्रम के अंत में उपस्थित कवियों ने अपनी रचनाएँ पढ़ी।  


टिप्पणियां

ये पढ़े क्या?

{{posts[0].title}}

{{posts[0].date}} {{posts[0].commentsNum}} {{messages_comments}}

{{posts[1].title}}

{{posts[1].date}} {{posts[1].commentsNum}} {{messages_comments}}

{{posts[2].title}}

{{posts[2].date}} {{posts[2].commentsNum}} {{messages_comments}}

{{posts[3].title}}

{{posts[3].date}} {{posts[3].commentsNum}} {{messages_comments}}

ये कुछ आल टाइम चर्चित

कहानी: दोपहर की धूप - दीप्ति दुबे | Kahani : Dopahar ki dhoop - Dipti Dubey

अरे! देखिए वो यहाँ तक कैसे पहुंच गई... उसने जल्दबाज़ी में बाथरूम का नल बंद कि…

जनता ने चरस पी हुई है – अभिसार शर्मा | Abhisar Sharma Blog #Natstitute

क्या लगता है आपको ? कि देश की जनता चरस पीए हुए है ? कि आप जो कहें वो सर्व…

मुसलमान - मीडिया का नया बकरा ― अभिसार शर्मा #AbhisarSharma

अभिसार शर्मा का व्यंग्य मुसलमान - मीडिया का नया बकरा …

गुलज़ार की 10 शानदार कविताएं! #Gulzar's 10 Marvellous Poems

गुलज़ार की 10 बेहतरीन कविताएं! जन्मदिन मनाइए: पढ़िए नज़्म छनकती है...  गीतका…

मन्नू भंडारी: कहानी - अकेली Manu Bhandari - Hindi Kahani - Akeli

अकेली (कहानी) ~ मन्नू भंडारी सोमा बुआ बुढ़िया है।  …

कहानी "आवारा कुत्ते" - सुमन सारस्वत

रेवती ने जबरदस्ती आंखें खोलीं। वह और सोना चाहती थी। परंतु वॉर्ड के बाहर…

चतुर्भुज स्थान की सबसे सुंदर और महंगी बाई आई है

शहर छूटा, लेकिन वो गलियां नहीं! — गीताश्री आखिर बाईजी का नाच शुर…

प्रेमचंद के फटे जूते — हरिशंकर परसाई Premchand ke phate joote hindi premchand ki kahani

premchand ki kahani  प्रेमचंद के फटे जूते premchand ki kahani — …

अनामिका की कवितायेँ Poems of Anamika

अनामिका की कवितायेँ   Poems of Anamika …

कायरता मेरी बिरादरी के कुछ पत्रकारों की — अभिसार @abhisar_sharma

मैं सोचता हूँ के मोदीजी जब 5, 10 या 15 साल बाद देश के प्रधानमंत्री नहीं …

साल दर साल

एक साल से पढ़ी जाती हैं

कहानी "आवारा कुत्ते" - सुमन सारस्वत

रेवती ने जबरदस्ती आंखें खोलीं। वह और सोना चाहती थी। परंतु वॉर्ड के बाहर…

चतुर्भुज स्थान की सबसे सुंदर और महंगी बाई आई है

शहर छूटा, लेकिन वो गलियां नहीं! — गीताश्री आखिर बाईजी का नाच शुर…

प्रेमचंद के फटे जूते — हरिशंकर परसाई Premchand ke phate joote hindi premchand ki kahani

premchand ki kahani  प्रेमचंद के फटे जूते premchand ki kahani — …

हिंदी कहानी : उदय प्रकाश — तिरिछ | uday prakash poetry and stories

उदय प्रकाश की कहानी  तिरिछ  तिरिछ में उदय प्रकाश अपने नायक से कहल…

मन्नू भंडारी: कहानी - अकेली Manu Bhandari - Hindi Kahani - Akeli

अकेली (कहानी) ~ मन्नू भंडारी सोमा बुआ बुढ़िया है।  …

गुलज़ार की 10 शानदार कविताएं! #Gulzar's 10 Marvellous Poems

गुलज़ार की 10 बेहतरीन कविताएं! जन्मदिन मनाइए: पढ़िए नज़्म छनकती है...  गीतका…

हिन्दी सिनेमा की भाषा - सुनील मिश्र

आलोचनात्मक ढंग से चर्चा में आयी अनुराग कश्यप की दो भागों में पूरी हुई फिल…

अनामिका की कवितायेँ Poems of Anamika

अनामिका की कवितायेँ   Poems of Anamika …

महादेवी वर्मा की कहानी बिबिया Mahadevi Verma Stories list in Hindi BIBIYA

बिबिया —  महादेवी वर्मा की कहानी  mahadevi verma stories list in hind…