advt

'वर्तमान साहित्य 'Vartman Sahitya' November 2015

नव॰ 16, 2015

वर्तमान साहित्य - नवम्बर 2015 Vartman Sahitya - November 2015

वर्तमान साहित्य

साहित्य, कला और सोच की पत्रिका


वर्ष 32  अंक 11  नवम्बर, 2015

सलाहकार संपादक:  रवीन्द्र कालिया | संपादक: विभूति नारायण राय | कार्यकारी संपादक: भारत भारद्वाज | कला पक्ष: भरत तिवारी
संपर्क: vartmansahitya.patrika@gmail.com 

सदस्यता प्रपत्र डाउनलोड subscription form 
--------------------------------------------------------------

description
main body
डाक पंजीयन संख्या ए.एल.जी./63, 2013–2015
संपादकीय कार्यालय —
टी/101, आम्रपाली सिलिकॉन सिटी, सेक्टर–76,
नोएडा–201306 मो– 09643890121
कला–पक्ष : भरत तिवारी
सहयोग राशि : एक प्रति मूल्य : 30/– वार्षिक : 350/–
संस्थाओं व लाइब्रेरियों के लिए : 500/– आजीवन : 11000/–
विदेशों में वार्षिक : 70 डॉलर ।
बैंक के माध्यम से सदस्यता शुल्क भेजने के लिए
वर्तमान साहित्य
चालू खाता संख्या — 85141010001260
सिंडीकेट बैंक, रामघाट रोड, अलीगढ़–202002
कृपया राशि भेजने की सूचना तत्काल ईमेल, एसएमएस अथवा पत्र द्वारा भेजें ।
सदस्यता से सम्बन्धित सारे भुगतान मनीऑर्डर/ड्राफ़्ट/चैक/बैंक के माध्यम से वर्तमान साहित्य के नाम से संपादकीय कार्यालय के पते पर ही भेजे जाएँ । मनीऑर्डर भेजने के साथ ही पत्र द्वारा अपना पूरा पता फोन नं. सहित सूचित करें ।
पत्रिका में प्रकाशित रचनाओं की रीति–नीति या विचारों से वर्तमान साहित्य, संपादक मंडल या संपादक की सहमति अनिवार्य नहीं है । संपादन एवं संचालन पूर्णतया अवैतनिक और अव्यावसायिक ।

अंदर की बात

संपादकीय
कबिरा हम सबकी कहैं / विभूति नारायण राय 3
आलेख
ग़दर आंदोलन में एक राजा — राजा महेंद्र प्रताप / प्रदीप सक्सेना 5
स्मृति शेष
मेरे गुरुदेव डॉ– गोपाल राय / भारत भारद्वाज 14
नींद रहे नींद फकत नींद नहीं / प्रियदर्शन मालवीय 16
धारावाहिक उपन्यास–6
कल्चर वल्चर / ममता कालिया 17
अनुवाद (पंजाबी कहानी)
लावा / मूल : हरप्रीत सेखा, अनु : सुभाष नीरव 24
चर्चित कहानी बनाम प्रिय कहानी
बिल्लियां बतियाती हैं / एस आर हरनोट 30
आत्मवक्तव्य 39
चर्चा / मनीषा कुलश्रेष्ठ 40
कहानी
बोर्डिंग पास / अनुज 50
बँटवारा / सुशांत सुप्रिय 54
संस्मरण
सतीश जमाली — जर्जर डोंगी और बूढ़ा मछेरा/ मधुरेश 56
कविताएं
मान बहादुर सिंह 41
संजय मिश्र 48
अमरेन्द्र कुमार शर्मा 62
सरोज परमार 64
स्वप्निल श्रीवास्तव 65
निर्मल गुप्त 66
समीक्षा
हिन्दी समाज की मौत का मर्सिया / प्रेमपाल शर्मा 67
मीडिया
बच्चों के लिए स्वस्थ संचार अत्यावश्यक / प्रांजल धर 69
स्तम्भ
रचना संसार / सूरज प्रकाश 73
तेरी मेरी सबकी बात / नमिता सिंह 77
सम्मति — इधर–उधर से प्राप्त प्रतिक्रियाएं 80


००००००००००००००००



ये पढ़े क्या?

{{posts[0].title}}

{{posts[0].date}} {{posts[0].commentsNum}} {{messages_comments}}

{{posts[1].title}}

{{posts[1].date}} {{posts[1].commentsNum}} {{messages_comments}}

{{posts[2].title}}

{{posts[2].date}} {{posts[2].commentsNum}} {{messages_comments}}

{{posts[3].title}}

{{posts[3].date}} {{posts[3].commentsNum}} {{messages_comments}}

ये कुछ आल टाइम चर्चित

कहानी: दोपहर की धूप - दीप्ति दुबे | Kahani : Dopahar ki dhoop - Dipti Dubey

अरे! देखिए वो यहाँ तक कैसे पहुंच गई... उसने जल्दबाज़ी में बाथरूम का नल बंद कि…

जनता ने चरस पी हुई है – अभिसार शर्मा | Abhisar Sharma Blog #Natstitute

क्या लगता है आपको ? कि देश की जनता चरस पीए हुए है ? कि आप जो कहें वो सर्व…

मुसलमान - मीडिया का नया बकरा ― अभिसार शर्मा #AbhisarSharma

अभिसार शर्मा का व्यंग्य मुसलमान - मीडिया का नया बकरा …

गुलज़ार की 10 शानदार कविताएं! #Gulzar's 10 Marvellous Poems

गुलज़ार की 10 बेहतरीन कविताएं! जन्मदिन मनाइए: पढ़िए नज़्म छनकती है...  गीतका…

मन्नू भंडारी: कहानी - अकेली Manu Bhandari - Hindi Kahani - Akeli

अकेली (कहानी) ~ मन्नू भंडारी सोमा बुआ बुढ़िया है।  …

कहानी "आवारा कुत्ते" - सुमन सारस्वत

रेवती ने जबरदस्ती आंखें खोलीं। वह और सोना चाहती थी। परंतु वॉर्ड के बाहर…

चतुर्भुज स्थान की सबसे सुंदर और महंगी बाई आई है

शहर छूटा, लेकिन वो गलियां नहीं! — गीताश्री आखिर बाईजी का नाच शुर…

प्रेमचंद के फटे जूते — हरिशंकर परसाई Premchand ke phate joote hindi premchand ki kahani

premchand ki kahani  प्रेमचंद के फटे जूते premchand ki kahani — …

अनामिका की कवितायेँ Poems of Anamika

अनामिका की कवितायेँ   Poems of Anamika …

कायरता मेरी बिरादरी के कुछ पत्रकारों की — अभिसार @abhisar_sharma

मैं सोचता हूँ के मोदीजी जब 5, 10 या 15 साल बाद देश के प्रधानमंत्री नहीं …

साल दर साल

एक साल से पढ़ी जाती हैं

कहानी "आवारा कुत्ते" - सुमन सारस्वत

रेवती ने जबरदस्ती आंखें खोलीं। वह और सोना चाहती थी। परंतु वॉर्ड के बाहर…

चतुर्भुज स्थान की सबसे सुंदर और महंगी बाई आई है

शहर छूटा, लेकिन वो गलियां नहीं! — गीताश्री आखिर बाईजी का नाच शुर…

प्रेमचंद के फटे जूते — हरिशंकर परसाई Premchand ke phate joote hindi premchand ki kahani

premchand ki kahani  प्रेमचंद के फटे जूते premchand ki kahani — …

हिंदी कहानी : उदय प्रकाश — तिरिछ | uday prakash poetry and stories

उदय प्रकाश की कहानी  तिरिछ  तिरिछ में उदय प्रकाश अपने नायक से कहल…

मन्नू भंडारी: कहानी - अकेली Manu Bhandari - Hindi Kahani - Akeli

अकेली (कहानी) ~ मन्नू भंडारी सोमा बुआ बुढ़िया है।  …

गुलज़ार की 10 शानदार कविताएं! #Gulzar's 10 Marvellous Poems

गुलज़ार की 10 बेहतरीन कविताएं! जन्मदिन मनाइए: पढ़िए नज़्म छनकती है...  गीतका…

हिन्दी सिनेमा की भाषा - सुनील मिश्र

आलोचनात्मक ढंग से चर्चा में आयी अनुराग कश्यप की दो भागों में पूरी हुई फिल…

अनामिका की कवितायेँ Poems of Anamika

अनामिका की कवितायेँ   Poems of Anamika …

महादेवी वर्मा की कहानी बिबिया Mahadevi Verma Stories list in Hindi BIBIYA

बिबिया —  महादेवी वर्मा की कहानी  mahadevi verma stories list in hind…