October 2016 - #Shabdankan
#Shabdankan

साहित्यिक, सामाजिक ई-पत्रिका Shabdankan


शिवमूर्ति की कहानी — कुच्ची का कानून — भाग 3 #कुच्ची

Monday, October 31, 2016 0
डाक्टर नर्स जा चुके हैं। लड़की अब रोने लगी है। ऊपर झुकी दाई के गले में हाथ डालने की कोशिश करते हुए अस्फुट स्वर में बुदबुदाती है— बचाई ...
और आगे...

मोदी सरकारः सिर्फ एक अंक! — हरि शंकर व्यास #WorldBank #GST

Saturday, October 29, 2016 1
यह लेख किसी मोदी-विरोधी ने नहीं लिखा है — ओम थानवी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की धारा के पत्रकार माने जाने वाले हरिशंकर ...
और आगे...

डॉ राकेश पाठक की कवितायेँ | Poems : Dr Rakesh Pathak #हिंदी

Friday, October 28, 2016 0
कविता तब बहुत आत्मीय हो जाती जब उसे पढ़ते वक़्त लगे कि जिस काल में कविता है उसी काल में, कवि के आसपास ही कहीं इत्मिनान से बैठ, कवि को वह...
और आगे...

"हां डार्लिंग, बोलो " दिल्ली मेट्रो Couple विडियो पर युवा पत्रकार सिंधुवासिनी

Wednesday, October 26, 2016 1
एक तरफ हमें अपनी मर्जी से साथ घूम रहे प्रेमी जोड़ों को देखकर शर्म आती है दूसरी तरफ हमारे ही समाज का एक तबका 50-100 रुपये में रेप की वि...
और आगे...

सेफ जोन से बाहर की कहानियां — 'स्वप्न, साजिश और स्त्री'

Wednesday, October 26, 2016 0
गीताश्री   कहानियों के सेफ जोन से परिचित होते हुए भी बार-बार रिस्क लेती हैं। कहानियों में बोल्ड विषय लेने के आरोप उन पर निराधार है। वह...
और आगे...

वैवाहिक बलात्कार है: फोन पर निकाह और तलाक़-तलाक़-तलाक़ — डॉ सुजाता मिश्र #TripleTalaq

Monday, October 24, 2016 0
ट्रिपल तलाक़ के मुद्दे पर भारत में जिस तरह की दुविधा का माहौल है, जिस तरह अधिकतर लोगों ने 'नेताओं वाली चुप्पी' ओढ़ी हुई है, उसे समझन...
और आगे...

सरकार छिपाती है और पत्रकार को खोजना होता है — शेखर गुप्ता

Thursday, October 20, 2016 0
इंडिया टुडे के करण थापर ही एकमात्र एेसे पत्रकार थे, जिन्होंने सवाल उठाया कि कैसे चार गैर-सैनिक ब्रिगेड मुख्यालय की सारी सुरक्षा क...
और आगे...

#Shabdankan

↑ Grab this Headline Animator