अशोक वाजपेयी: असहमति,बहुलता,सहिष्णुता के परिसर नहीं रह गए हैं विवि - #Shabdankan
#Shabdankan

साहित्यिक, सामाजिक ई-पत्रिका Shabdankan


osr 1625

अशोक वाजपेयी: असहमति,बहुलता,सहिष्णुता के परिसर नहीं रह गए हैं विवि

Share This

अशोक वाजपेयी: असहमति,बहुलता,सहिष्णुता के परिसर नहीं रह गए हैं विवि #शब्दांकन

हमारे विश्वविद्यालयों को इस तरह के घटिया और नीच राजनैतिक हस्तक्षेप है मुक्त हो सकना चाहिए 

अशोक वाजपेयी

हैदराबाद यूनिवर्सिटी के छात्र रोहित की खुदकुशी पर वरिष्ठ साहित्यकार अशोक वाजपेयी ने डी.लिट उपाधि लौटाने का एलान किया है. पांच साल पहले अशोक वाजपेयी को हैदराबाद यूनिवर्सिटी ने सम्मान के तौर पर डीलिट की मानद उपाधि दी थी. वाजपेयी ने यूनिवर्सिटी पर दलित विरोधी होने का आरोप लगाया है.

एनडीटीवी पर हुई सिक्ता देव  उनकी बातचीत का विडियो



००००००००००००००००



#Shabdankan

↑ Grab this Headline Animator

लोकप्रिय पोस्ट