मेरी रक्षा करो, मैं हिन्दू हूँ ― भरत तिवारी - #Shabdankan
#Shabdankan

साहित्यिक, सामाजिक ई-पत्रिका Shabdankan


osr 1625

मेरी रक्षा करो, मैं हिन्दू हूँ ― भरत तिवारी

Share This



मेरी रक्षा करो, मैं हिन्दू हूँ 

― भरत तिवारी 

जब हिंदुओं के लिए बड़ी समस्या मुसलमान है न कि ग़रीबी, रोज़गार, बलात्कार।

जब यह तय कर लिया गया है कि जानते हुए भी झूठ को सच कहा जायेगा।




जब रोज़मर्रा की ज़िन्दगी में नोटबंदी से आयी दिक्कतों को यह कहते हुए झेल लिया जायेगा कि अच्छे के लिए हो रहा है।

जब वादा करने वाला, वादे को वादा मानने से इंकार करे मगर अधिकतर हिन्दू फिर भी उसकी बातों को वादा ही मानें।

जब देश के अधिकतर हिन्दू, ये मान रहें हैं कि उनके लिए सबसे बड़ा ख़तरा मुसलमान ही है और कि उनकी रक्षा एक मोदीजी ही कर सकते हैं।

इसलिए मैं तब ज़रूर ही मूर्ख होऊंगा जब अपने महान हिन्दू धर्म के भाइयों को गलत कहूँ। आज से कोशिश होगी कि बस मुसलमान को ही दुश्मन मानूँ।

― भरत तिवारी 

(ये लेखक के अपने विचार हैं।)
००००००००००००००००

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

#Shabdankan

↑ Grab this Headline Animator

लोकप्रिय पोस्ट