advt

एक सिस्टम तुम्हारे देश, प्रदेश...रौंदता हुआ #UnnaoCase

अप्रैल 11, 2018


बस सुन लेते हो?

— भरत तिवारी

The panel of doctors which conducted postmortem examination on the intervening night of Monday and Tuesday, noted down 14 ante-mortem injuries on Devendra’s body. The panel also found two of his teeth were broken recently and fresh injuries in jaw.

IG Lucknow range Sujeet Pandey “Girl’s father died because of septicaemia. I am yet to examine the complete report,” 


तुम कितनी धटिया लाश बन गए हो!


अगर तुम उन्नाव में लड़की के साथ हुए बलात्कार और उसके बाद उसके पिता की मौत का जिम्मेदार योगी सरकार, यूपी पुलिस, सिस्टम या बांगरमऊ से भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को मानते हो, तो यह क़बूल करने से पहले, एक बार यह सोच लो कि -- तुम्हारा मानव योनि में जनम किस लिए हुआ है, और जब तुम इन जिम्मेवारों और उनके बापों को हमने जांच के आदेश दे दिए हैं / एसआईटी गंठित हो गयी है / कल तक रिपोर्ट आ जाएगी / दोषियों को बक्शा नहीं जायेगा / प्रशासन अपना काम कर रहा है / जांच हो रही है / सस्पेंड कर दिया है... यह कहते बार-बार हज़ार बार घटना छोटी हो या बड़ी, सामान्य हो या वीभत्स. कन्वेंशनल हो या रेयरेस्ट ऑफ़ रेअर सुनते हो और 'बस सुन लेते हो'...

ज़रा सोचो यार, तुम क्या सच में ज़िन्दा हो?

नहीं हो!

तुम कितनी धटिया लाश बन गए हो!

एक सिस्टम तुम्हारे देश, प्रदेश, नदी, तालाब, मोहल्ला, स्कूल सब को तुम्हारे 'बस सुन लेते हो' के देखते देखते रौंदता हुआ, अपनी बलात्कारी प्रवृत्ति का झंडा लहराते हुए, तुम्हारे घर में घुस जाता है और तब तुम चिल्ला रहे होते हो और तुम ही बस सुन भी रहे होते हो.

राजनीति को तो सत्ता की प्यास है, माना, तुम्हारी भूख क्या है जो तुम उसकी सत्ता के लिए अपनों के कपड़े उतरवा रहे हो?

ज़रा सोचना तुम्हारे इस चू का फ़ायदा उठा-उठा कर तुम्हारा क्या हाल कर दिया है...छोडो तुम सोच नहीं पाओगे, तुम तो बस सुनते हो..मैं बताता हूँ

इंसान का दुश्मन इंसान को बना दिया

हिन्दू का दुश्मन मुसलमान और मुसलमान का दुश्मन हिन्दू बना दिया

ब्राह्मण का दुश्मन ठाकुर और ठाकुर का दुश्मन ब्राह्मण बना दिया

तथाकथित ऊँची जात का दुश्मन तथाकथित नीची जात को बना दिया

और हर जातों की जातों को आपस में दुश्मन बना दिया

दोस्त को दुश्मन बना दिया

परिवार को दुश्मन बना दिया

... और सुनोगे ? कितना सुनोगे यार, छोड़ो ये चु अब, हर बात में राजनीति देखना , तुम्हारा काम नहीं है यह उसका काम है जो तुम्हे बेवकूफ़ बना रहा है और वह यह खूब समझता है कि एक बार अगर तुमने राजनीति देखना बंद कर दिया तो उसकी और उसकी फैलायी गंदगी का खात्मा हो जायेगा.

इतना मैल भर लिया है तुमने उसकी सुन सुन कर कि बस,,,अब तुम्हे स्वच्छ मानस की ज़रुरत है.

भरत तिवारी


००००००००००००००००

टिप्पणियां

ये पढ़े क्या?

{{posts[0].title}}

{{posts[0].date}} {{posts[0].commentsNum}} {{messages_comments}}

{{posts[1].title}}

{{posts[1].date}} {{posts[1].commentsNum}} {{messages_comments}}

{{posts[2].title}}

{{posts[2].date}} {{posts[2].commentsNum}} {{messages_comments}}

{{posts[3].title}}

{{posts[3].date}} {{posts[3].commentsNum}} {{messages_comments}}

ये कुछ आल टाइम चर्चित

कहानी: दोपहर की धूप - दीप्ति दुबे | Kahani : Dopahar ki dhoop - Dipti Dubey

अरे! देखिए वो यहाँ तक कैसे पहुंच गई... उसने जल्दबाज़ी में बाथरूम का नल बंद कि…

जनता ने चरस पी हुई है – अभिसार शर्मा | Abhisar Sharma Blog #Natstitute

क्या लगता है आपको ? कि देश की जनता चरस पीए हुए है ? कि आप जो कहें वो सर्व…

मुसलमान - मीडिया का नया बकरा ― अभिसार शर्मा #AbhisarSharma

अभिसार शर्मा का व्यंग्य मुसलमान - मीडिया का नया बकरा …

गुलज़ार की 10 शानदार कविताएं! #Gulzar's 10 Marvellous Poems

गुलज़ार की 10 बेहतरीन कविताएं! जन्मदिन मनाइए: पढ़िए नज़्म छनकती है...  गीतका…

मन्नू भंडारी: कहानी - अकेली Manu Bhandari - Hindi Kahani - Akeli

अकेली (कहानी) ~ मन्नू भंडारी सोमा बुआ बुढ़िया है।  …

कहानी "आवारा कुत्ते" - सुमन सारस्वत

रेवती ने जबरदस्ती आंखें खोलीं। वह और सोना चाहती थी। परंतु वॉर्ड के बाहर…

चतुर्भुज स्थान की सबसे सुंदर और महंगी बाई आई है

शहर छूटा, लेकिन वो गलियां नहीं! — गीताश्री आखिर बाईजी का नाच शुर…

प्रेमचंद के फटे जूते — हरिशंकर परसाई Premchand ke phate joote hindi premchand ki kahani

premchand ki kahani  प्रेमचंद के फटे जूते premchand ki kahani — …

अनामिका की कवितायेँ Poems of Anamika

अनामिका की कवितायेँ   Poems of Anamika …

कायरता मेरी बिरादरी के कुछ पत्रकारों की — अभिसार @abhisar_sharma

मैं सोचता हूँ के मोदीजी जब 5, 10 या 15 साल बाद देश के प्रधानमंत्री नहीं …

साल दर साल

एक साल से पढ़ी जाती हैं

कहानी "आवारा कुत्ते" - सुमन सारस्वत

रेवती ने जबरदस्ती आंखें खोलीं। वह और सोना चाहती थी। परंतु वॉर्ड के बाहर…

चतुर्भुज स्थान की सबसे सुंदर और महंगी बाई आई है

शहर छूटा, लेकिन वो गलियां नहीं! — गीताश्री आखिर बाईजी का नाच शुर…

प्रेमचंद के फटे जूते — हरिशंकर परसाई Premchand ke phate joote hindi premchand ki kahani

premchand ki kahani  प्रेमचंद के फटे जूते premchand ki kahani — …

हिंदी कहानी : उदय प्रकाश — तिरिछ | uday prakash poetry and stories

उदय प्रकाश की कहानी  तिरिछ  तिरिछ में उदय प्रकाश अपने नायक से कहल…

मन्नू भंडारी: कहानी - अकेली Manu Bhandari - Hindi Kahani - Akeli

अकेली (कहानी) ~ मन्नू भंडारी सोमा बुआ बुढ़िया है।  …

गुलज़ार की 10 शानदार कविताएं! #Gulzar's 10 Marvellous Poems

गुलज़ार की 10 बेहतरीन कविताएं! जन्मदिन मनाइए: पढ़िए नज़्म छनकती है...  गीतका…

हिन्दी सिनेमा की भाषा - सुनील मिश्र

आलोचनात्मक ढंग से चर्चा में आयी अनुराग कश्यप की दो भागों में पूरी हुई फिल…

अनामिका की कवितायेँ Poems of Anamika

अनामिका की कवितायेँ   Poems of Anamika …

महादेवी वर्मा की कहानी बिबिया Mahadevi Verma Stories list in Hindi BIBIYA

बिबिया —  महादेवी वर्मा की कहानी  mahadevi verma stories list in hind…