July 2017 - #Shabdankan
#Shabdankan

साहित्यिक, सामाजिक ई-पत्रिका Shabdankan


हम भूलते रहें वो खेलते रहें | "पिछला चैप्‍टर" — रवीश @ravishndtv #Ravish

Saturday, July 29, 2017 2
Ravish Kumar (Photo (c) Bharat Tiwari) पिछला चैप्‍टर — रवीश कुमार हम भूलते रहें वो खेलते रहें. यह खेल जबतक खेल है कोई दिक्कत...
और आगे...

चलीं राखियां सिक्किम — तरुण विजय #Sisters4Jawans @Tarunvijay

Saturday, July 29, 2017 1
सामान्य भारतीय की देशभक्ति टीवी स्क्रीन देशभक्ति होती है। आम जीवन में भारत के धनी, राजनेता, बड़े अफसर अपने बेटे-बेटियों को सेना में...
और आगे...

खुश्बू: इरा टाक के रूमानी उपन्यास रिस्क@इश्क का अंश

Wednesday, July 26, 2017 2
खुश्बू: रिस्क@इश्क... इरा टाक के रूमानी उपन्यास का अंंश शाज़िया के पास फिलहाल कोई चारा नहीं था. वो अनमनी सी मार्टिन के साथ का...
और आगे...

कैंपस में टैंक — प्रितपाल कौर | #JNUTankDebate

Tuesday, July 25, 2017 1
प्रोफेसर एम. जगदीश कुमार के अनुसार विश्व विद्यालय में एक टैंक रखा जाना चाहिए (फोटो: भरत तिवारी) सूत्रों के अनुसार यह एक सोची समझी...
और आगे...

प्रभात त्रिपाठी: निरन्तर अन्तर्यात्रा की कविता

Friday, July 21, 2017 1
निरन्तर अन्तर्यात्रा की कविता — प्रभात त्रिपाठी समीक्षा ‘जहाँ होना लिखा है तुम्हारा’ अभी मैं इसी पर सोच रहा हूँ। मैं अपने स...
और आगे...

उबर पूल मंगाई — सर्वप्रिया सांगवान #UberPool

Thursday, July 20, 2017 0
ना जाने क्या मेरे मन में समाई जो मैंने उबर पूल मंगाई... Sarvapriya Sangwan ...बैठे ही थे कि एक दूसरी सवारी की रिक्वेस्ट आ गय...
और आगे...

मस्त रहो अपनी भक्ति की चरस में — अभिसार शर्मा | Abhisar Sharma Blog #Adani

Wednesday, July 19, 2017 9
कटघरे में अभिव्यक्ति — अभिसार शर्मा चोटिल हूँ, लिहाजा कुछ दिनों से लिख नहीं पा रहा हूँ। हाथ टूट गया है। बडी हिम्मत करके कु...
और आगे...

जो मैं मुसलमान होती... बरखा दत्त #ifIWereAMuslim

Wednesday, July 19, 2017 4
इफ आई वर अ मुस्लिम — बरखा दत्त / अंग्रेज़ी से हिंदी अनुवाद: भरत तिवारी बरखा दत्त ने पिछले दिनों ‘द वीक’ के अपने सम्पाद...
और आगे...

तरुण विजय : #हिन्दुस्तानियत से जिन्दा है कश्मीरियत @Tarunvijay

Friday, July 14, 2017 1
हिन्दुस्तान के अलावा किसी कश्मीरियत का कोई मायने ही नहीं है तरुण विजय जो कश्मीरी मुस्लिम नेता अमरनाथ यात्रियों के लिए एक इंच ...
और आगे...

मंगलेश डबराल: यह भी एक पक्ष है अग्निशेखरजी!

Thursday, July 13, 2017 1
मंगलेश डबराल का अग्निशेखर को खुला पत्र  अपनी फेसबुक वाल पर अग्निशेखर मुझसे सवाल करते चले आ रहे हैं, जिनमें वामपंथी बुद्धिजीवि...
और आगे...

#Shabdankan

↑ Grab this Headline Animator