December 2015 - #Shabdankan
#Shabdankan

साहित्यिक, सामाजिक ई-पत्रिका Shabdankan


कहानी: अशोक गुप्ता - गिनीपिग्स | Minor Girl Raped ! Kahani

मंगलवार, दिसंबर 29, 2015
हर मामले में एक नाबालिग कच्ची उमर की अबोध बच्ची और पका हुआ खेला खाया नौजवान मर्द. आखिर कहीं तो कोई सिरा मिले जहाँ से सोचना शुरू किया जा...
और आगे...

पंकज सिंह, हारती हुई मनुष्यता के पक्षधर - प्रो. मुरली सिंह | Pankaj Singh

सोमवार, दिसंबर 28, 2015
हारती हुई मनुष्यता के पक्षधर पंकज  - प्रो. मुरली मनोहर प्रसाद सिंह पंकज सिंह के प्रकाशित तीन संग्रहों में पहला संग्रह ‘‘आहटें ...
और आगे...

अब जब कि पंकज सिंह नहीं हैं - कुमार मुकुल | Pankaj Singh

सोमवार, दिसंबर 28, 2015
अब जब कि पंकज सिंह नहीं हैं - कुमार मुकुल अब जब कि मेरे प्रिय कवि पंकज सिंह हमारे बीच नहीं हैं उनकी कविताओं के निहितार्थ न...
और आगे...

हिंदी कवितायेँ: रमा भारती - चाँद और रुका हुआ लम्हा | Rama Bharti

सोमवार, दिसंबर 28, 2015
रुका हुआ लम्हा - रमा भारती कवि के लिए चाँद से मुहब्बत ठीक वैसी ही मोहब्बत होती है जैसी उसकी अपनी मुहब्बत, जिसमें दूरी होते हुए...
और आगे...

मोदी की सफल होती विदेश नीति – अपूर्व जोशी

शुक्रवार, दिसंबर 25, 2015 0
 सफल होती विदेश नीति  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार संसद में जीएसटी बिल पास कराने में भले ही सफल न हो सकी हो, उच्च एवं उच्चतम न्यायालय ...
और आगे...

प्रधानमंत्री मोदी की भारी भूल - ओम थानवी

शुक्रवार, दिसंबर 25, 2015
रूसी हमारे प्रधानमंत्री के सम्मान में राष्ट्रगान पेश कर रहे थे, मोदी जन-गण-मन की धुन ही नहीं पहचान पाए और आगे चल पड़े। उन्हें बांह पकड़ कर...
और आगे...

मन्नू भंडारी को शब्द साधक शिखर सम्मान | Mannu Bhandari Awarded

गुरुवार, दिसंबर 24, 2015
'शब्द साधक शिखर सम्मान' वरिष्ठ कथाकार मन्नू भंडारी को दिया जाएगा इंडिपेंडेंट मीडिया इनीशिएटिव सोसायटी  | पाखी हिंदी सा...
और आगे...

उपन्यास समीक्षा: नए कबीर की खोज में - डॉ. रमा | Hindi Novel Review NBT

गुरुवार, दिसंबर 24, 2015
नए कबीर की खोज में  - डॉ॰ रमा description सच कहूँ तो यह उपन्यास मेरे पास समीक्षा के उद्देश्य से आया ही नहीं था। किसी ने यह ...
और आगे...

Chitra Mudgal Interview चित्रा मुद्गल साक्षात्कार

बुधवार, दिसंबर 23, 2015
अल्पना मिश्र, वंदना राग, मनीषा कुलश्रेष्ठ, शरद सिहं और इंदिरा दागीं बेहतर लिख रही हैं - चित्रा मुद्गल  चित्रा मुद्गल जी का ‘सामय...
और आगे...

श्रेष्ठ हिंदी कहानियाँ: वंदना राग - 'विरासत' Best Hindi Kahani Books

सोमवार, दिसंबर 21, 2015
कितना आसान होता है - किसी कहानी को दौड़ते-हुए पढ़ जाना और फिर उसे खारिज़ या बहुत-अच्छी-कहानी कह देना. वादा कीजिये - कहानी को भागते-भूगते न...
और आगे...

#Shabdankan

↑ Grab this Headline Animator

लोकप्रिय पोस्ट