December 2016 - #Shabdankan
#Shabdankan

साहित्यिक, सामाजिक ई-पत्रिका Shabdankan


'इस साल न हो पुर-नम आँखें' — 2017 की शुभकामनायें — डॉ कुमार विश्वास

Saturday, December 31, 2016 0
Dr Kumar Vishwas Wishes 2017  इस साल न हो पुर-नम आँखें इस साल न हो पुर-नम आँखें इस साल न हो पुर-नम आँखें,...
और आगे...

नासिरा शर्मा के उपन्यास 'शाल्मली’ के बहाने स्त्री विमर्श पर चर्चा — रोहिणी अग्रवाल

Friday, December 30, 2016 0
’शाल्मली’ के बहाने स्त्री विमर्श पर चर्चा उर्फ  ’’नियम और धर्म केवल कागज पर लिखने के लिए होते हैं या फिर तुम औरत...
और आगे...

जिम्मेवार कौन? नोटबंदी से कटघरे में आयी भारतीय रिज़र्व बैंक की साख — मृणाल पाण्डे @MrinalPande1

Thursday, December 29, 2016 0
बैंकिंग तंत्र, साखबहाली की ज़रूरत मृणाल पाण्डे किसी भी देश में राजा और प्रजा, या मतदाता और उसकी चुनी हुई सरकार के बीच सबसे बड़ा...
और आगे...

असगर वजाहत हमारे समय के मंटो है — भरत तिवारी #DilliBol 1

Sunday, December 25, 2016 0
Dilliबोल १ ऑक्सफ़ोर्ड बुक स्टोर, कनॉट प्लेस में शुक्रवार की शाम अभूतपूर्व समा रहा। Audience बहुत भारी संख्या में लोग, ज...
और आगे...

मोदीजी राम-वास्ते बंद कीजिये ये पाकिस्तानी राग ― अभिसार शर्मा

Thursday, December 22, 2016 0
ढाई साल पहले तक पाकिस्तान पर हमारी कूटनीतिक बढ़त इसलिए भी थी के हम पाकिस्तान केंद्रित नहीं थे cartoon  courtesy The Hindu ...
और आगे...

असग़र वजाहत की कहानी शिल्पी और रौनक की ज़ुबानी #DilliBol

Wednesday, December 21, 2016 0
Dilliबोल #1 असग़र वजाहत वाया शिल्पी मारवाह एंड आरजे रौनक #DilliBol हिंदी के मशहूर लेखक, नाटककार, चिंतक, एक ब...
और आगे...

10 दिग्गज — ज़ी जेएलएफ की फाइनल लिस्ट #ZeeJLF

Wednesday, December 21, 2016 0
जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2017 ज़ी जेएलएफ की फाइनल लिस्ट में शामिल १० दिग्गजों के नाम  अमृता पाटिल  ...
और आगे...

#Shabdankan

↑ Grab this Headline Animator