Header Ads

रवीश कुमार की बेहतरीन से बेहतर बगैर लाग-लपेट दो-टूक | Ravish Kumar ki Aaj ki News

December 30, 2019
अब यूपी को भी इंटरनेट बंदी की आदत होते जा रही है...रवीश कुमार दिल्ली के टीवी स्टूडियो थीम और थ्योरी की बहस में चले गए हैं, जबकि ग्...Read More

सांता क्लाज हमें माफ कर दो — सच्चिदानंद जोशी #कहानी | Santa Claus hame maaf kar do

December 29, 2019
उस दिन शायद पहली बार मैंने अपने पिताजी से पूछा था, "बाबा ये हिंदू क्या होता है ?" बाबा हँस दिए थे बस। दूसरे दिन यही बात मैं...Read More

मैंने कभी धर्म और जाति के आधार पर पूछा क्या? जवाब है "कई बार पूछा" — रवीश कुमार

December 23, 2019
लोकसभा और राज्य सभा में जब यह बिल लाया गया तो चर्चा में प्रधानमंत्री ने भाग लिया? जवाब है नहीं. क्या चर्चा के वक्त प्रधानमंत्री सदन म...Read More

तू तौ वहां रह्यौ ऐ, कहानी सुनाय सकै जामिआ की — अशोक चक्रधर | #जामिया

December 17, 2019
जामिया मिलिया इस्लामिया में हिंदी व पत्रकारिता विभाग में प्रोफेसर रह चुके, हिंदुस्तान की कई पीढ़ियों को हास्य-व्यंग्य  से परिचित कराने ...Read More

हरिशंकर परसाई — "जिंदगी और मौत का दस्तावेज़" [वसीयतनामा फरमाइशी] | Harishankar Parsai Vyangya in Hindi

December 15, 2019
हरिशंकर परसाई की 'जिंदगी और मौत का दस्तावेज़' को पढ़ते हुए मुझे ऐसा क्या लगा होगा जो इसे टाइप किया और यहाँ आपसब के लिए लगाया......Read More

योगिता यादव की कहानी 'नई देह में नए देस में' | #हिंदी #कहानी

November 11, 2019
योगिता यादव की लेखनी को मैं सदैव कहानी की विषयवस्तु को बिलकुल ताज़ा लिखने वाली मानता हूँ ,'नई देह में नए देस में' उन्होंने मेरी ...Read More

देखो मैं इतने बड़े लेखक के करीब हूं — रवीन्द्र कालिया पर कथाकार अखिलेश #जालंधर_से_दिल्ली_वाया_इलाहाबाद (2)

October 28, 2019
रवींद्र कालिया की कहानियों से मैं चमत्कृत था; उनकी भाषा, उनका यथार्थ के प्रति सुलूक, उनकी मध्यवर्गीय भावुकताविहीनता, उनका खिलंदड़ा अ...Read More

रवीन्द्र कालिया पर कथाकार अखिलेश का संस्मरण #जालंधर_से_दिल्ली_वाया_इलाहाबाद (1)

October 20, 2019
अधिकतर ऐसा ही हुआ : कोई कालिया जी से मिला और उनका होकर ही रुखसत हुआ । उनका अत्यंत महत्वपूर्ण लेखक होना, आकर्षक अनोखा व्यक्तित्व, उनका...Read More

नाटक पुनर्व्याख्या की सर्वोत्कृष्ट कला है — मनीष सिसोदिया | #भरतमुनि_रंग_उत्सव

October 20, 2019
भरतमुनि रंग उत्सव नई दिल्ली, अक्टूबर 2019: विभिन्न भारतीय कला और संस्कृति को बढ़ावा देने वाले दिल्ली सरकार के कला और संस्कृति व...Read More

मादा देह मुर्गे के एक किलो गोश्त से भी सस्ती — #ये_माताएं_अनब्याही — अमरेंद्र किशोर

October 19, 2019
टीआरपी के बिसातियों न प्राइम टाइम में हंगामा मचा और न कोई कवर स्टोरी सामने आयी  अनब्याही माता होने की पीढ़ीगत परम्परा के अनगिनत मह...Read More
Powered by Blogger.